.

सरकार ने करदाता (Tax Payer) और कर कटौतीकर्ताओं (TDS Deductor) दोनों के लिए Form No.15G अथवा Form No.15H में Self Declaration के लिए format और procedure को सरल बनाया है एवं कटौतीकर्ताओं (TDS Deductor) के लिए फॉर्म जमा करने की प्रक्रिया को भी सरल किया गया है। CBDT ने Notification No. 76/2015/F.No.133/50/2015-TPL Dated 29-09-2015 जारी किया है। यह प्रक्रिया 1 अक्टूबर, 2015 से प्रभावी होगी।  जिन करदाताओं को अपनी आय में से टीडीएस नहीं कटवाना उन्हें Income Tax Act,1961 कि सेक्शन 197A के प्रावधानों के अनुसार Form No.15G अथवा Form No.15H में Self Declaration करने की आवश्यकता होगी।

करदाताओं और कर कटौतीकर्ताओं दोनों पर अनुपालन लागत में कमी और अनुपालन भार को आसान बनाने के क्रम में केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने Form No.15G अथवा Form No.15H में Self Declaration के प्रारूप और प्रक्रिया को सरल बना दिया है। कटौतीकर्ताओं (TDS Deductor) के द्वारा भरे जाने वाले फॉर्मो की प्रक्रिया को भी आसान कर दिया गया है। 

नयी सरलीकृत प्रक्रिया के अंतर्गत करदाता, Form 15G & Form 15H online भी भर सकता है।इसके अलावा अगर online form भरने में कोई समस्या है तो physical form भी मान्य होंगे। एक पृथक निदृष्ट प्रक्रिया के अनुसार कटौतीकर्ता सभी स्व-घोषणा करने वाले व्यक्तियों का कर नहीं काटेंगे और एक विशिष्ट पहचान संख्या (UIN) आवंटित करेंगे। स्व-घोषणा में दिए गए इन विवरणों को UIN के साथ Quarterly TDS statement के साथ कटौतीकर्ता द्वारा समायोजित करना होगा। कटौतीकर्ता द्वारा Form No.15G अथवा Form No.15H की एक प्रतिलिपि आयकर अधिकारियों के पास जमा करनी होगी। हालांकि कटौतीकर्ता को 7 वर्षो के लिए Form No.15G अथवा Form No.15H को रखने की जरूरत होगी।

Download Form No.15G and Form No.15H

अधिक जानकारी के लिए विभाग की वेबसाइट http://www.incometaxindia.gov.in/ पर देखें।